Advertisement
fb

नई दिल्ली: गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पार्रिकर का सोमवार को पूर्ण सैन्य और राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा। पार्रिकर के अंतिम दर्शन करने के लिए राजधानी पणजी की सड़कों पर सोमवार को हजारों की संख्या में लोग उमड़ पड़े। पार्रिकर का पार्थिव शरीर यहां भाजपा कार्यालय में लाया गया ताकि पार्टी कार्यकर्त्ता उन्हें अंतिम विदाई दे सकें। तिरंगे में लिपटा पार्रिकर पार्थिव शरीर देखकर हर कार्यकर्त्ता की आंखें नम हो गईं। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी गोवा में ही हैं। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के अलावा कई केंद्रीय मंत्री, राज्यों के मुख्यमंत्री पार्रिकर की अंतिम यात्रा में शामिल होने गोवा पहुंचेंगे।

Centre has announced national mourning on March 18, following demise of Goa Chief Minister #ManoharParrikar. State funeral will be accorded to him. National Flag will fly at half-mast in the National Capital & capitals of States & UTs. pic.twitter.com/AD9Fg5jSYD

— ANI (@ANI) March 17, 2019

रक्षा मंत्री रह चुके पार्रिकर (63) का पणजी के पास दोना पावला स्थित उनके निजी आवास पर रविवार को निधन हुआ। वे पिछले साल फरवरी से ही अग्नाशय कैंसर से जूझ रहे थे। गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव एस के शाही ने रविवार के जारी एक आदेश में कहा कि रक्षा मंत्रालय से पूर्ण सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार की व्यवस्था करने का अनुरोध किया गया है।

शाही ने एक परिपत्र में कहा कि सरकार ने फैसला लिया है कि दिवंगत हस्ती का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा। प्रदेश भाजपा के एक प्रवक्ता ने बताया कि पार्रिकर का अंतिम संस्कार यहां मिरामार बीच पर सोमवार को शाम पांच बजे किया जाएगा। मिरामार बीच पर गोवा के पहले मुख्यमंत्री दयानंद बंडोदकर का भी स्मारक है। केंद्र सरकार ने सोमवार को राष्ट्रीय शोक की घोषणा की है। देशभर में राष्ट्र ध्वज आज आधा झुका रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here