Advertisement
fb

क्राइस्टचर्च: न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में शुक्रवार को दो मस्जिदों में गोलीबारी कर 49 लोगों को मौत के घाट उतारने के आरोपी दक्षिणपंथी हमलावर को शनिवार को अदालत में पेश किया गया। ऑस्ट्रेलिया में जन्मा ब्रेंटन टारेंट (28) हाथ में हथकड़ी और कैदियों वाली सफेद रंग की कमीज पहने अदालत में पेश हुआ। हमलावर पूर्व फिटनेस प्रशिक्षक है। अदालत ने आरोपी को बिना किसी दलील के 5 अप्रैल तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

उसने कई बार अदालत में मौजूद मीडिया की ओर देखा। सुरक्षा कारणों के चलते सुनवाई बंद कमरे में हुई।  हमलावर ने जमानत की कोई अर्जी नहीं दी। पांच अप्रैल को होने वाली अगली सुनवाई तक उसे हिरासत में रखा जाएगा। हमले में घायल चार वर्षीय बच्चे सहित 42 लोगों का इलाज जारी है। इस बीच न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न ने शनिवार को हमले के वैश्विक स्तर पर पड़े प्रभाव को रेखांकित करते हुए कहा कि उनकी सरकार हमले के बाद पड़े प्रभाव से निपटने के लिए ‘‘ पाकिस्तान, तुर्की, सऊदी अरब, बांग्लादेश, इंडोनेशिया और मलेशिया’’ के महावाणिज्य अधिकारियों के साथ मिलकर काम कर रही है।

देश के बंदूक संबंधी कानूनों पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि वह इसमें बदलाव करने को तैयार हैं। अर्डर्न ने कहा कि हमलावर ने नवम्बर 2017 में ‘श्रेणी ए’ के बंदूक लाइसेंस हासिल कर हमले के लिए हथियार खरीदने शुरू किए थे। उन्होंने कहा, ‘‘यह मात्र तथ्य है कि इस व्यक्ति ने बंदूक लाइसेंस हासिल कर लिया था और उस स्तर तक के हथियार हासिल कर लिए थे….जाहिर है मुझे लगता है कि लोग बदलाव की मांग करेंगे, और मैं इसे करने के लिए प्रतिबद्ध हूं।’’

वहीं न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च मस्जिद हमले में जुनैद कारा नाम के एक भारतीय की मौत हो गई है। वह गुजरात के नवसारी का रहने वाला था। पिछले कई साल से वह न्यूजीलैंड में अपने परिवार के साथ रह रहा था और वहां स्टोर चलाता है। शुक्रवार को वह भी मस्जिद में नमाज अदा करने गया था। इस दौरान हमलावर ने उसे गोली मार दी। अभी तक कुल 9 भारतीयों के लापता होने की खबर है।

न्यूजीलैंड के सेंट्रल क्रिस्टचर्च की दो मस्जिदों पर हुए आतंकी हमले के पीड़ितों में दो लोग तेलंगाना के हैदराबाद से भी हैं। पुलिस के मुताबिक शुक्रवार को हुए इस हमले में इन दो लोगों में एक घायल है और दूसरे का अभी तक कुछ पता नहीं चल पाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here